Pages

Follow by Email

Wednesday, 7 December 2011

Confusion over UPTET mark sheet

गोरखपुर। टीईटी के रिजल्ट को लेकर घमासान मचने वाला है। डायट से प्रमाण पत्र वितरण की खबर आने के बाद जिम्मेदारों के होश उड़ गए हैं। मंडल के 32 हजार अभ्यर्थियों में प्रमाण पत्र बांटने की डायट परिसर में कोई व्यवस्था नहीं है। उधर, शिक्षक बनने के लिए आवेदन पत्र जमा करने की अंतिम तिथि 19 दिसंबर है। ऐसे में यदि अभ्यर्थियों को समय से प्रमाण पत्र नहीं मिला तो वे आवेदन नहीं कर पाएंगे। डायट को भी समझ में नहीं आ रहा है कि इतने कम समय में रिजल्ट बंटेगा कैसे?
टीईटी रिजल्ट वितरण को लेकर असमंजस की स्थिति खड़ी हो गई है। गोरखपुर, देवरिया, कुशीनगर और महराजगंज जिले के 60 हजार अभ्यर्थियों में से 32 हजार पास हुए हैं। प्राथमिक स्कूलों में शिक्षक पद के लिए निकली भर्ती में आवेदन करने को लेकर अभ्यर्थी खासे चिंतित है। प्रमाण पत्र डायट से मिलने की खबर आने के बाद अभ्यर्थी जानकारी के लिए डायट का चक्कर काटने लगे हैं। आवेदन जमा करने अंतिम तिथि 19 दिसंबर है और अभी तक प्रमाण पत्र नहीं पहुंचा है। अधिकारियों को वितरण की स्थिति का ब्यौरा पहले ही भेज जिम्मेदारों ने हाथ खड़े कर लिए हैं। जगह और कर्मचारियों की कमी आड़े आ रही है। कहा जा रहा है कि रिजल्ट बांटने में कम से कम 10 दिन लगेंगे, लेकिन तब तक आवेदन की अंतिम तिथि बीत जाएगी। 
समस्या का होगा निदान : प्राचार्य 
डायट प्राचार्य जेएन सिंह का कहना है कि डायट से टीईटी का प्रमाण पत्र मिलने के संबंध में कोई अधिकृत सूचना नहीं आई है अभी तक प्रमाण पत्र भी नहीं पहुंचा है। 32 हजार अभ्यर्थियों में प्रमाण पत्र का वितरण करने में समय लगेगा। उच्चाधिकारियों से बातचीत कर समस्या का निराकरण कराया जाएगा।
News : Amar Ujala (7.12.11)

No comments:

Post a Comment

ENTER YOUR COMMENT HERE..................

Note: only a member of this blog may post a comment.